Sunday, June 30, 2013

जीवन क्या है? Jeevan Kya Hai?


जीवन क्या है, आसमान  के एक टुकडे  का, मीठा पानी,
गिरा जमीं पर, चला खड़ा हो, कहने को एक नयी कहानी,
थोडा हंसकर  ज्यादा रोया, जो भी पाया  सब कुछ खोया,
खारा होकर  दुनिया से, जब चला  न छोड़ी एक निशानी।

जीवन क्या है, आसमान  के एक टुकडे  का, मीठा पानी
n  Neeraj Dwivedi


Featured Post

मैं खता हूँ Main Khata Hun

मैं खता हूँ रात भर होता रहा हूँ   इस क्षितिज पर इक सुहागन बन धरा उतरी जो आँगन तोड़कर तारों से इस पर मैं दुआ बोता रहा हूँ ...