Thursday, April 28, 2011

My Creations : एक कलम ही पर्याप्त है स्वयं को व्यक्त करने के लिये

Shades from my graduation classes ....

Shades from my graduation classes ....

Featured Post

मैं खता हूँ Main Khata Hun

मैं खता हूँ रात भर होता रहा हूँ   इस क्षितिज पर इक सुहागन बन धरा उतरी जो आँगन तोड़कर तारों से इस पर मैं दुआ बोता रहा हूँ ...